वेबसाइट के लिए Terms And Condition कैसे लिखते है।

Terms and condition किसी भी वेबसाइट को ligel तरीके इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया नियम व शर्तें (Set of rule) है। यह नियम व शर्तें Website को किसी भी प्रकार के गलत इस्तेमाल से बचाता है।

Steps to write terms and conditions

कई बार website पर Abuse comment भी आते है जो साइट पर गलत असर डालता है। और कई बार वेबसाइट का content मिसयूज होने लगता है। इन सब Wrong Activity को Control में रखने के लिए Terms and conditions बनाया जाता है।

एक free lencer Blog की अगर बात करे तो बहुत से Content Writer एक ही ब्लॉग में Post डालते है। मगर यहां कई प्रकार के मुद्दों पर कंटेंट लिखा जाता है। उनमें बहुत से ऐसे मुद्दे भी रहते है जो जनता को भड़काने वाले भी हो सकते है जैसे जाति, धर्म आदि पर लिखा गया मुद्दा। और कई ऐसे मुद्दे भी आते है जो Political रहता है।

किसी Buseness Website के लिए terms of use रखना तो most important है। अगर आप अपने बिज़नेस वेबसाइट में Product deal करते है है या कुछ और सर्विस देते है तो उस deal के बीच आने वाली अवैध समस्याओं का एक Terms बनाकर उससे बच सकते है।

जैसे कि आपने एक Phisical प्रोडक्ट sale किया वो Customer return करना चाहता है और इस बात के लिए वह Force डालता है। तो आप इन सब चीजों से बचने के लिए बनाए गई agreement में ऐसा लिख सकते है कि ” यदि किसी कारणवश product return (Return policy) करना है तो 10 दिनों के अंदर कर सकते है या प्रोडक्ट रिटर्न नहीं लिया जाएगा” इससे Visitors को यह पता चल जाएगा कि रिटर्न का विकल्प नहीं है या 10 दिन के अंदर करना है और आपके सर्विस पर कोई कार्यवाही भी नहीं होगी।

इस तरह से किसी वेबसाइट को Voilence तथा अन्य कानूनी कार्यवाही से बचाया जा सकता है। इस नियमों को Terms of service और Terms of use के नाम से भी जाना जाता है। इनमे उन सभी शर्तों (Conditions) को लिखकर एक Agreement तैयार किया जाता है जो Customer (Visitor) और Website के मध्य लागू होता है।

Why need terms and conditions (नियम व शर्तें क्यों आवश्यक है)

terms protect your site from harmfull activity

Terms बनाने का कारण अपनी साइट और यूजर के मध्य किए जाने वाला समझौता है। जो हर विजिटर को मानना अनिवार्य है। जिसमें वेबसाइट के इस्तेमाल के लिए कुछ limitation की जानकारी और अन्य इसी तरह के समझौते को दर्शाया जाता है।

Terms of use बनाने के पांच मुख्य कारण (5 reason of terms and conditions) होने ही चाहिए जो हर वेबसाइट के लिए Basic terms है।

1. Prevent of Abuses (दुर्व्यवहार पर रोक)

किसी भी Sites के लिए बनाए गए terms में दुर्व्यवहार को रोकने के लिए Visitors के लिए एक नियम बनाए जाता है जिसमें कुछ नियम रखे जाते है जो सभी visitors पर लागू होते है।

इस नियम के तहत Visitor के द्वारा किसी भी प्रकार का ऐसा व्यवहार जो किसी अन्य विजिटर के लिए Voilence Create करे या Sites पर कुछ illegel Action (Hacking, Wrong Comment, Content copy) करने का अधिकार नहीं रहता। ऐसा करने पर कार्यवाही की जा सकती है।

2. Terminate Accounts (खाता को मिटाना)

यदि कोई Visitors (Customers) किसी भी तरह का दुर्व्यवहार या Illegel Action करता है तो उसके account को terminate करने के लिए इस terms को बनाया जाता है। किसी भी विजिटर के accounts को बिना Notice के हटाया का सकता है।

3. Copywrite own Content (कॉपीराइट सामाग्री)

किसी भी Websites के Owner के द्वारा उसके वेबसाइट में किया गया कार्य और सामाग्री जैसे कि Graphics Design, Site logos, और Content आदि खुद का बनाया होता है जिसे कॉपी करने का अधिकार Visitors को नहीं रहता।

4. Limit Liability (सिमित दायित्व)

Websites के द्वारा दी गई कोई भी जानकारी या प्रोडक्ट या डाटा को लेकर किसी भी प्रकार की Responsiblity वेबसाइट Owner या अन्य वेबसाइट Author की नहीं होगी। और ना ही किसी भी प्रकार के Error या नुकसान की जिम्मेदारी वेबसाइट की है।

5. Set The Governing Law (कोर्ट की जानकारी)

यह ये दर्शाता है कि rules follow नहीं करने पर अपने साथ होने वाली कानूनी कार्यवाही कहा के नियमो के अनुसार को जाएगी। जैसे यदि आप इंडिया से ऑपरेट करते है तो कुछ इस तरह मेंशन होगा

These terms and conditions are governed by the laws of the india.

How to Write terms and conditions (नियम व शर्तें कैसे लिखे)

अपने साइट के लिए नियम व शर्तें लिखने के लिए सबसे पहले आपको अपने वेबसाइट पर देने वाली सभी Services की एक लिस्ट बनानी होगी ताकि कोई ऐसी सर्विस ना हो जो आपके द्वारा छूट जाए।

12 steps to write terms and conditions

इसके बाद सभी सर्विस को एक एक करके अपनी उस पर अपनी शर्तो को लिखे जो आप रखना चाहते है। और इसके बाद सभी शर्तों को prepare करे और आपकी शर्तें तैयार हो जाएगी। अब इसे terms page में add कर दे।

इस टॉपिक को और अच्छे और बारीकी से समझने के लिए शर्तो के टॉपिक को विस्तार से समझते है। जो कुछ बिंदुओं के आधार पर है।

12 steps to write terms and conditions:

#1. Introduce to website – Terms and condition बनाने के लिए सबसे पहले जिस वेबसाइट का शर्त बना रहे उसका intro दीजिए। और अपनी कंपनी का नाम और नियम के बारे में बताइए।

Welcome to “Website Name”!

These terms and conditions outline the rules and regulations for the use of “Company Name”‘s Website, located at “Website Address”

#2. Inform to agree terms – यहां पर अपने visitors को बताए कि यदि वह आपकी साइट को इस्तेमाल करना चाहते है तो उनको आपकी शर्तें माननी होगी।

By accessing this website we assume you accept these terms and conditions. Do not continue to use “Website Name” if you do not agree to take all of the terms and conditions stated on this page.

#3. Discribe Terminology: आपके द्वारा बनाए जा रहे शर्तो मै अपने कंपनी के लिए इस्तेमाल होने या संबोधित होने वाले और आपके विजिटर के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले शब्दों का परिचय दे। ताकि आपकी शर्तें आपके यूजर पर उन शब्दों के आधार पर लागू हो।

Word used for Company: “The Company”, “Ourselves”, “We”, “Our” and “Us”, refers to our Company. “Party”, “Parties”, or “Us”, refers to both the Client and ourselves.

For the client: Client”, “You” and “Your” refers to you,

#4. Discribe cookies details – यदि आपका वेबसाइट बेहतर रिजल्ट और कुछ सर्विसेज को सुचारू रूप से चलाने के लिए Cookies का इस्तेमाल करता है तो Client को इसके बारे में बताए।

We use cookies by assending “Website name”. You agree this with “comapny name”. Agreement privacy policy.

#5. Discribe Ownership License – अपने customer या visitors को यह बताए की वेबसाइट में इस्तेमाल किया गया सभी materials, content original और copyright reserve है जिसकी चोरी कानूनन जुर्म है।

Used material by this company and content also are copyright reserved. you can not reuse that as any commercial use.

#6. Dont do that – यहां पर किसी भी कस्टमर या विजिटर को आपके वेबसाइट पर क्या नहीं करना है उन बातो का उल्लेख कीजिए। और बताइए की ऐसा करने पर वह कार्यवाही के पात्र होंगे।

Do not: *Do not use our website or company name in commercial or profitable use. *Dont republish website materials. *Do not sell or rent any material use by company name. *Dont any abuse comments or voilence comments.

#7. Linking hyperlinks – यदि किसी व्यक्तिगत कंपनी या person द्वारा आपके hyperlink को इस्तेमाल किया जाता है तो इसकी सूचना देकर कंपनी से permission अवश्य ले।

if you want to link our any url first inform by email or other source and take approval.

#8. i frame embed – यदि किसी कस्टमर द्वारा आपके कंपनी या website के डाटा को embed किया जाता है तो इसकी सूचना देकर अनुमति लेले। इस बात का उल्लेख करे।

if you want to embed our any url first inform by email or other source and take approval.

#9. Content Liability – इस सेक्शन में यह बात साफ कर दे की यदि इस वेबसाइट के कंटेंट को या सामग्री को इस्तेमाल करते है तो होने वाली कार्यवाही या घटना के हम जिम्मेदारी नहीं लेते। इसका जिम्मेदार स्वयं ही होंगे और सजा का पात्र भी हो सकते है।

We shall not be hold responsible for any content that appears on your Website.

#10. Account Terminate – किसी विजिटर के द्वारा यदि ऐसी प्रतिक्रिया का अनुभव हो जो terms के विरूद्ध हो और कंपनी या साइट के लिए बुरा प्रभाव डालता हो तो बिना किसी नोटिस के उसका account terminate कर दिया जाएगा।

The account can be terminated. if found visitor activity apposite of terms.

#11. Inform to customer about law – अपने शर्तो में इस बात का उल्लेख करे की यदि कोई terms के विरूद्ध जाता है और वेबसाइट में दुर्व्यवहार करता है तो उस पर किस जगह या किस country के governer law लागू होंगे।

#12. Notification to change – अपने terms and conditions को change करने के बाद आप अपने कस्टमर तक यह सूचना कैसे पहुंचाएंगे। इसका उल्लेख करे।

Please visit time to time this page to update with terms.if do any changes of the terms we will notify by notice board of website.

यहां पर दिया गया उदाहरण बहुत ही छोटा है जो सिर्फ उदाहरण के लिए बताया गया है। शर्तें लिखते समय इस बात का ध्यान रखे की यह आपकी जरूरतों की हिसाब से लंबा रहे जिसमें लगभग सभी शर्तों का बारीकी से उल्लेख हो।

यहां पर terms को लिखने के 12 points बताए गए है को एक basic वेबसाइट को ध्यान में रखकर बताया गया है। किसी भी वेबसाइट में इन सर्विस को पाया जाता है। यदि आपके वेबसाइट में

29 comments

    • जहां तक मै जानता हूं कि आप ब्लॉग होस्टिंग के लिए wordpress का use करते है। wordpress में analytics देखने के लिए आप अपने dashboard में जाकर Stats section में देख सकते है। और यदि आप WordPress का application इस्तेमाल करते है तो main screen में आपको stats का option मिल जाएगा। इसमें आप details में traffic देख सकते है जैसे कहा से ट्रैफिक आया contry, redirect आदि।

      पसंद करें

    • देखिए मै समझ रहा हूं आपकी परेशानी। मगर आपका सवाल ही क्लियर नहीं है तो कैसे मदद करूं। मैंने आपको मेल id प्रोवाइड किया है उसमे कृपया स्क्रीनशॉट भेजिए ताकि मुझे समझ आए आपकी परेशानी।

      पसंद करें

    • Hello mr. asif sayyad

      आपने जो स्क्रीनशॉट भेजा है उसमे 

      1. जो homepage / Archives आपका होमपेज है उसमे लिखा 35 ये दर्शाता है कि ये कितने बार देखा गया। अपने कहा था यह भर गया है तो अब क्या होगा।

      डरने या चिंता करने की जरूरत नहीं है यह केवल यह दिखा रहा है कि लगभग 35 लोगो ने आपके होमपेज को देखा है जो आपके अन्य पोस्ट और पेज के अपेक्षा अच्छा रिजल्ट में है। इसीलिए बार full भरा हुआ दिखा रहा है। 

      2. good news

      यह आपके पोस्ट की details है जो केवल 3लोगो ने देखा है जो को होमपेज कि अपेक्षा कम है इसीलिए होमपेज को टारगेट मानकर उसका 3 percent ही भरा दिखाई दे रहा है। 

      ये सिर्फ एनालिटिक्स है जो व्यूज को दर्शाता है। आपको किसी भी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है।

      यदि आपको कुछ और सहायता चाहिए तो पुनः संपर्क कर सकते है। 

      पसंद करें

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.